Sale!

Neha Ki Love Story

250

क्या प्रेम कहानी में एक लड़का और लड़की ही होते हैं, या फिर और भी बहुत कुछ होता है? नेहा जब भी अपने प्यार के बारे में सोचती, वह ठिठक जाती। क्योंकि उसके प्यार में लड़का और लड़की के साथ एक शर्त भी थी, जिसमें नेहा उलझ जाती है। अपने प्यार को पूरी तरह से पाने के लिए रखी गई शर्त की दहलीज पर ठिठक जाटी है। क्या उस दहलीज को पार करके ही उसकी दुनिया था? या फिर कुछ और? नेहा के लिए क्या जरूरी था, प्यार या शर्त? नेहा सोचती या कुछ काठी तब तक बहुत कुछ ऐसा हुआ, जिसने उसे उस दहलीज से ही कहीं दूर उठा कर फेंक दिया। क्या उसके लिए शर्त दोषी थी या फिर उसकी सोच, जिसने उसे सच्चे प्यार की परख समय रहते नहीं होने दी? नेहा के पास जवाब नहीं था…

SKU: Garuda 11 Category:

Description

क्या प्रेम कहानी में एक लड़का और लड़की ही होते हैं, या फिर और भी बहुत कुछ होता है? नेहा जब भी अपने प्यार के बारे में सोचती, वह ठिठक जाती। क्योंकि उसके प्यार में लड़का और लड़की के साथ एक शर्त भी थी, जिसमें नेहा उलझ जाती है। अपने प्यार को पूरी तरह से पाने के लिए रखी गई शर्त की दहलीज पर ठिठक जाटी है। क्या उस दहलीज को पार करके ही उसकी दुनिया था? या फिर कुछ और? नेहा के लिए क्या जरूरी था, प्यार या शर्त? नेहा सोचती या कुछ काठी तब तक बहुत कुछ ऐसा हुआ, जिसने उसे उस दहलीज से ही कहीं दूर उठा कर फेंक दिया। क्या उसके लिए शर्त दोषी थी या फिर उसकी सोच, जिसने उसे सच्चे प्यार की परख समय रहते नहीं होने दी? नेहा के पास जवाब नहीं था…

Additional information

Weight 300 g
Dimensions 22 × 14 × 2 cm
Author

Book Cover Type

ISBN

979-8885750196

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Neha Ki Love Story”

Your email address will not be published. Required fields are marked *